खेल

सफलता की मिसाल बनी मैरीकॉम छठी बार जीती विश्व चैंपियनशिप

  • [By: FPIndia || Published: Nov 24, 2018 19:05 PM IST
सफलता की मिसाल बनी मैरीकॉम छठी बार जीती विश्व चैंपियनशिप
New Delhi: भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम नारी सफलता की मिसाल और रोल  मॉडल बन चुकी हैं। कड़ी मेहनत और सकारात्मक सोच के बल पर उन्होंने इतिहास रच दिया। उन्होंने छठी बार महिला विश्व चैंपियनशिप का खिताब जीता। इससे पहले वह पांच बार विजेता रह चुकी हैं। विश्व चैंपियनशिप में सबसे ज्यादा पदक जीतने वाली वह पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं। जीत के साथ ही मैरीकॉम भावुक हो गईं और अपने आंसुओं को रोक नहीं सकीं। मैरीकॉम के खेल का जीवन सफलताओं से भरा है। वह तीन बच्चों की माँ होने के साथ ही जिंदगी की कई जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रही हैं। इस सफलता पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व प्रधानमंत्री सहित कई हस्तियों ने मैरीकॉम को बधाई दी।
     चैंपियनशिप के 10वें संस्करण में मैरीकॉम ने सफलता का नया अध्याय लिखा। नई दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम स्थित केडी जाधव हॉल में आयोजित मुकाबले में उन्होंने 48 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में गोल्ड हासिल किया। उन्होंने यूक्रेन की हन्ना ओखोटा को जबरदस्त मुक्कों के दम पर 5-0 से पछाड़ा। इसके साथ ही उन्होंने मुक्केबाजी चैंपिपयनशिप में छठी बार खिताब जीता। मैरीकॉम इससे पहले लगातार पांच बार यह खिताब जीत चुकी हैं। चैंपियनशिप में 6 बार पदक जीतने वाली वह पहली मुक्केबाज हैं। मैरीकॉम ने 16 साल पहले पहला गोल्ड मेडल जीता था।
     अपनी जिंदगी में रिंग के बाहर भी वह कई भूमिकाएं सफलता के साथ निभा रही हैं। 35 साल की मैरीकॉम राज्यसभा सांसद और भारत में मुक्केबाजी की सरकारी पर्यवेक्षक भी हैं। उनके पति का नाम ओनलेर कोम है और उनके 3 बच्चे भी हैं। इम्फाल में उनकी अपनी अकादमी है। जिसे वह अपने पति के साथ मिलकर चलाती हैं। अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ ने उन्हें 2010 में ‘मैग्नीफिसेंट मैरी’ का उपनाम दिया था। मैरी ने वर्ष 2000 में अपने करियर की शुरूआत की थी। हालांकि परिवार ने उनका इस करियर को लेकर विरोध किया था, लेकिन वक्त के साथ उनकी मेहनत देखकर सभी सहमत भी हो गए। उन्हें लेकर बॉलीवुड में फिल्म भी बन चुकी है। प्रियंका चोपड़ा ने उनका किरदार बखूबी निभाया। अपनी जिम्मेदारियों को लेकर मैरीकॉम कहती हैं कि ‘मैं एक माँ भी हूं। तीन बच्चों का मुझे ध्यान रखना होता है। जिम्मेदारियां बड़ी हैं, लेकिन किसी तरह यह सब कर पाती हूं। आप जिम्मेदारियों से भाग नहीं सकते।’ @FpindiaNews

रिलेटेड टॉपिक्स