देश-प्रदेश

जनता से बोले मोदी-

  • [By: FPIndia || Published: Sep 18, 2018 20:13 PM IST
जनता से बोले मोदी-
-पीएम ने वाराणसी को दी 557 करोड़ की विकास परियोजनाओं की सौगात
Varanasi, (UP): अपने जन्मदिन के मौके पर दो दिनों की यात्रा पर वारणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरे दिन 18 सितंबर को अपने संसदीय क्षेत्र काशी को जन्मदिन का रिटर्न गिफ्ट दिया। उन्होंने 557 करोड़ रुपये की लागत वाली विकास परियोजनाओं को शिलान्यास-लोकार्पण किया। इन मौके पर उन्होंने जनसभा को भी संबोधित किया और बतौर सांसद सवा चार सालों में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कराए गए विकास कार्यों का रिपोर्ट कार्ड पेश किया और कहा कि यहां की जनता ने मुझे पीएम बनाया है इसलिए अपने काम की रिपोर्ट देना मेरा दायित्व है। मेरे काम की यह तो एक छोटी सी झलक है। आप मेरे मालिक और हाईकमान हैं इसलिए मैं पाई-पाई का हिसाब दूंगा। उन्होंने कहा कि काशी बदल रहा है और इस बदलाव को पूरी दुनिया देख रही है। इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उनके साथ मौजूद रहे। 
     अपने 68वें जन्मदिन के मौके पर दो दिवसीय दौरे पर 17 सितंबर को बाबतपुर हवाई अड्डे से हेलीकॉप्टर के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डीरेका हेलीपैड पहुंचे। प्रधानमंत्री का स्वागत किया गया। आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता सहिल सहायिकाओं ने उनका स्वागत किया। प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर बीते कई दिनों से तैयारियां की जा रही थीं। दौरे के पहले दिन उन्होंने नरउर गांव के सरकारी स्कूल में पहुंचकर बच्चों से संवाद किया। उन्होंने श्रम की सीख दी और कहा कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए कौशल जरूरी है। बच्चों ने उन्हें बधाई संदेश लिख कार्ड भी दिए। डीरेका गेस्ट हाउस में उन्होंने एक सामाजिक संस्था की तरफ से पढ़ाए जा रहे कूड़ा बीनने वाले बच्चों से भी मुलाकात की। इसके बाद उन्होंने काशी विश्वनाथ मंदिर में बाबा दरबार के दर्शन-पूजन करके आर्शीवाद लिया। रात में प्रधानमंत्री ने रेलवे स्टेशन का दौरा करके भी सभी को चौंका दिया।
     दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीएचयू के एम्फीथियेटर मैदान में आयोजित समारोह में 557 करोड़ रुपये की लागत वाली विकास परियोजनाओं को शिलान्यास-लोकार्पण किया। इस अवसर पर जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वाराणसी के हर वर्ग का जीवन स्तर ऊपर उठाने के लिए सरकार प्रयास कर रही है। हम सभी को जितना अपनी पुरातन संस्कृति और सभ्यता पर गर्व है उतना ही भविष्य की तकनीक के प्रति हमारा आकर्षण है। काशी अब देश के चुनिंदा शहरों में शामिल है, जहां के घरों में पाइप से कुकिंग गैस पहुंच रही है। वाराणसी शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों को भी सड़क, बिजली, पानी जैसी सुविधाएं पहुंचाई गई हैं। सांसद के रूप में जिन गांवों को विशेष रूप से विकसित करने का जिम्मा मेरे पास है उनमें से एक नागेपुर गांव के लिए आज पानी के एक बड़े प्रोजेक्ट का लोकार्पण किया गया है। वाराणसी के बड़े और मुख्य पार्कों का विकास और सौंदर्यीकरण किया गया है। सारनाथ में पर्यटकों के लिए लाइट एंड साउंड शो की व्यवस्था की गई है। आज काशी में ना सिर्फ आना-जान आसान हो रहा है बल्कि शहर के सौंदर्य को भी निखारा गया है। हमारे घाट अब गंदगी से नहीं रोशनी से अतिथियों का सत्कार करते हैं। मां गंगा के जल में अब नावों के साथ क्रूज की सवारी भी संभव हो पाई है। पर्यटन से परिवर्तन का ये अभियान निरंतर जारी है। वाराणसी में हो रहे विकास के गवाह, यहां एयरपोर्ट पर आने वाले लोग भी बन रहे हैं। हवाई जहाज से बनारस आने वाले लोगों और टूरिस्टों की संख्या में निरंतर बढोतरी हो रही है। स्मार्ट बनारस में स्मार्ट परिवहन हो, इसके लिए ट्रासपोर्ट के हर तरीके को आधुनिक बनाने का काम हो रहा है। बनारस के भीतर हजारों करोड़ रुपए की अनेक सड़क परियोजनाएं चल रही हैं।
     प्रधानमंत्री ने कहा कि हम पूरे समर्पण के साथ बनारस में हो रहे परिवर्तन के इस संकल्प को और मजबूत करें। नई काशी, नए भारत के निर्माण में आगे बढ़कर अपना योगदान दें। चार वर्ष पहले जब काशीवासी, बदलाव के इस संकल्प को लेकर निकले थे, तब और आज में अंतर स्पष्ट दिखता है। हम काशी में जो भी बदलाव लाने का प्रयास कर रहे हैं वो उसकी परंपराओं को संजोते हुए, उसकी पौराणिकता को बचाते हुए किया जा रहा है। अनंत काल से जो इस शहर की पहचान रही, उसे संरक्षित करते हुए, इस शहर में आधुनिक व्यवस्थाओं का समावेश किया जा रहा है। इसी सेवाभाव को आगे बढ़ाते हुए आज यहां 550 करोड़ रुपए से ज्यादा के प्रोजेक्ट्स का या तो लोकार्पण हुआ है या फिर शिलान्यास हुआ है, विकास के ये कार्य बनारस शहर ही नहीं बल्कि आसपास के गांवों से भी जुड़े हैं। मेरे लिए ये सौभाग्य की बात है देश के लिए समर्पित एक और वर्ष की शुरुआत मैं बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के शुभ आशीष से कर रहा हूं, आप सभी का ये स्नेह, ये आशीर्वाद मुझे हर पल प्रेरित करता है, आपकी और सभी देशवासियों की सेवा के संकल्प को और मजबूत करता है। काशी आज हेल्थ हब के रूप में उभरने लगा हैं। बीएचयू में आधुनिक ट्रॉमा सेंटर हजारों लोगों के जीवन को बचाने का काम कर रहा है। नए कैंसर और सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल लोगों को इलाज की आधुनिक सुविधाएं देंगे। बीएचयू ने एम्स के साथ एक वर्ल्ड क्लास हेल्थ इंस्टीट्यूट बनाने के लिए समझौता किया है।

रिलेटेड टॉपिक्स