दिल्ली-एनसीआर

स्याही, थप्पड़, अंडे के बाद CM केजरीवाल पर लाल मिर्च पाउडर अटैक

  • [By: FPIndia || Published: Nov 20, 2018 21:09 PM IST
स्याही, थप्पड़, अंडे के बाद CM केजरीवाल पर लाल मिर्च पाउडर अटैक
-घटना के बाद बीजेपी पर निशाना, आरोपी कस्टडी में
New Delhi: आम आदमी पार्टी के मुखिया व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक बार फिर निशाना बनाया गया। उन पर एक शख्स ने मिर्ची पाउडर से हमला किया। इस हमले में मुख्यमंत्री का चश्मा टूट गया। हमला दिल्ली सचिवालय में सीएम चेंबर के बाहर किया गया। सामने आया कि युवक का सीएम ऑफिस आने के लिए पास भी बना हुआ था। आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया। हमलावर खैनी के पाउच में मिर्च पाउडर भरकर लाया था। बीजेपी ने भी घटना की निंदा की है, लेकिन आम आदमी पार्टी ने इसे सोची समझी साजिश करार देकर बीजेपी पर निशाना साधा। घटना के बाद सीएम की सुरक्षा पर गंभीर सवाल उठ खड़े हुए।
     घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि दिल्ली सचिवालय की तीसरी मंजिल में सीएम अरविंद केजरीवाल चेंबर से खाना खाने के लिए निकले थे। इसी बीच पहले से वेटिंग रूम में इंतजार कर रहा युवक उनसे मिला और उनके पैरों पर झुका। मुख्यमंत्री कुछ समझ पाते कि उससे पहले ही अचानक उसने मिर्ची पाउडर उछाल दिया। मुख्यमंत्री ने उसे रोकने की कोशिश की। पाउडर से मुख्यमंत्री की आंखों को कोई नुकसान नहीं हुआ, लेकिन उनका चश्मा टूट गया। हमला होते ही स्टाफ हरकत में आ गया और युवक को पकड़ लिया। घटना के बाद सचिवालय में हड़कंप मच गया और सुरक्षा पर सवाल खड़े हो गए। हमलावर युवक को एस्टेट थाना पुलिस के हवाले कर दिया गया। आरोपी का नाम अनिल कुमार हिंदुस्तानी बताया गया और वह नारायणा का रहने वाला है। वह मुख्यमंत्री से नाराज था। उसकी मां बीमार थी और वह मदद मांग रहा था।
     घटना के बाद पार्टी में नाराजगी फैल गई। सोशल मीडिया पर यह खबर फैल गई। आम आदमी पार्टी ने इसे राजनीति से प्रेरित बताया और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि दिल्ली सचिवालय की सुरक्षा मोदी सरकार के अधीन है तो कोई व्यक्ति मिर्च पाउडर व माचिस लेकर मुख्यमंत्री तक कैसे पहुंच गया। यह हमला जानलेवा हो सकता था। दूसरी तरफ बीजेपी ने घटना की निंदा की। बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा का स्थान नहीं है, ऐसा करने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।
पहले भी हो चुके हैं CM केजरीवाल पर हमले
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से नाराजगी जताकर हमला करने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी उन्हें निशाना बनाया जाता रहा है। अप्रैल, 2016 में उन पर पत्रकार वार्ता के दौरान जूता फेंका गया था। फरवरी, 2016 में पंजाब के लुधियाना में उनकी कार पर डंडों से हमला किया गया। 2016 में ही दिल्ली में उन पर स्याही फेंकी गई थी। साल 2014 में उन पर हमले हुए। एक बार उन पर पत्थर उछाला गया और दूसरी बार एक रैली में अंडे फेंके गए। 2014 में चुनाव प्रचार के वक्त रोड शो के दौरान एक टैक्सी चालक ने फूल माला पहनाने की आड़ में उन्हें थप्पड़ मार दिया था। दक्षिणपुरी में प्रचार के दौरान एक युवक ने उनकी पीठ पर मुक्का मार दिया था। साल 2013 में भी उन पर स्याही फेंकी गई। 

रिलेटेड टॉपिक्स