अपराध

इश्क के जुनून में भाई ने ही पेट्रोल डालकर जिंदा जलाई थी दलित छात्रा

  • [By: FPIndia || Published: Dec 25, 2018 23:21 PM IST
इश्क के जुनून में भाई ने ही पेट्रोल डालकर जिंदा जलाई थी दलित छात्रा

Agra, (UP): दिनदहाड़े दलित छात्रा को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाकर मार डालने की हैवानियत भरी घटना का आगरा पुलिस ने रोंगटे खड़े करने वाला सनसनीखेज खुलासा किया। दिल दहलाने वाली वारदात को संजलि के तहेरे भाई योगेश ने ही अंजाम दिया था। उसके सिर पर इश्क का जुनून सवार था और वह छात्रा को मॉडलिंग कराने का झांसा देकर अपने जाल में उलझाने की कोशिश कर रहा था। छात्रा उसकी हरकतों का विरोध कर रही थी। मास्टरमाइंड कातिल भाई सुसाइड कर चुका है। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल रहे उसके दो रिश्तेदारों को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने टीवी शो क्राइम पेट्रोल देखकर वारदात की साजिश रची थी। मास्टरमाइंड ने संजलि को पाने की कोशिश नाकाम होने पर सबक सिखाने के लिए घटना को अंजाम दिया। बता दें कि हत्याकांड को लेकर लोगो में भारी गुस्सा था और राजनीति शुरू होने के साथ ही कानून-व्यवस्था पर भी सवाल उठ रहे थे।

    बीते 18 दिसंबर को लालाउ गांव में दिनदहाड़े स्कूल से घर वापस जा रही छात्रा संजलि को पेट्रोल डालकर जला दिया गया था जिसकी बाद में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। दिल दहलाने वाली घटना ने हर किसाी को हिलाकर रख दिया था। घटना से लोगों में आक्रोश था और सियासत भी गर्मा गई थी। यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राजबब्बर सहित कई नेताओं ने कानून-व्यवस्था पर सवाल उठा दिए थे। घटना के दूसरे दिन संजलि के तहेरे भाई योगेश ने भी सुसाइड कर लिया था। इससे आक्रोश और भी बढ़ गया था। पुलिस की कई टीमें मामले की जांच पड़ताल में जुटी रही और एक सप्ताह बाद पुलिस घटना की तह में पहुंच गई। एसएसपी अमित पाठक ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए मीडिया को बताया कि हत्याकांड का मास्टरमाइंड मृतका का सुसाइड करने वाला तहेरा भाई योगेश ही था।

     पुलिस के मुताबिक योगेश ने फुलप्रुफ प्लानिंग करने घटना को अंजाम दिया। वारदात में उसके साथ योगेश के मामा का लड़का विजय व योगेश की बहन का देवर आकाश भी शामिल था। पकड़े गए आरोपियों और सबूतों के अनुसार योगेश की अंजलि पर गंदी नजरें थीं और वह उसे एक तरफा प्यार करता था। वह उसे मॉडलिंग का लालच देकर परेशान किया करता था। उसका एकतरफा प्यार हदों को लांघ चुका था। नाकाम होने पर उसने इंसानियत को भी शर्मसार कर दिया। हत्याकांड की साजिश उसने टीवी शो क्राइम पेट्रोल देखकर रची थी। पुलिस ने जल्दबाजी में खुलासा न करके सीसीटीवी, सीडीआर, लोकेशन व मोबाइल के रिकॉर्ड जैसे सबूत जुटाए। गिरफ्तार आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल किया। 

रिलेटेड टॉपिक्स