बॉलीवुड

कानून के फंदे में सलमान खान, हिरण के शिकार में 5 साल की सजा

  • [By: Bhavesh || Published: Apr 05, 2018 13:24 PM IST
 कानून के फंदे में सलमान खान,  हिरण के शिकार में 5 साल की सजा

-सबूतों के आभाव में सैफ, नीलम, सोनाली बेंद्रे व तब्बू बरी
Jodhpur: बॉलीवुड के स्टार सलमान खान कानून के फंदे में फंस गए। शूटिंग के दौरान काले हिरण का शिकार करने के बहुचर्चित मामले में जोधपुर की अदालत ने उन्हें दोषी करार दे दिया। इसके बाद उन्हें 5 साल की सजा सुना दी गई। इस मामले में फंसे अन्य सितारों सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे व नीलम को कोर्ट ने सबूतों के आभाव में बरी कर दिया। अदालत के रूख से सलमान के सामने बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई। यह मामला 20 साल पुराना है जिसमें सलमान को दोषी करार दिया गया। जबरदस्त सुरक्षा बंदोबस्त के बीच सलमान को कोर्ट में पेश किया गया। बीते 28 मार्च को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने इस मामले में सुनवाई की थी, जिसमें फैसला सुरक्षित रख लिया गया था।
    दरअसल 18 साल पुराने कांकाणी हिरण शिकार मामले में जोधपुर ग्रामीण जिला अदालत ने सलमान खान के खिलाफ फैसला सुनाया। गौरतलब है कि सलमान फिल्म यूनिट के साथ ‘हम साथ साथ हैं’ फिल्म की शूटिंग के लिए गए थे। 2 अक्टूबर 1998 को जोधपुर के कांकाणी गांव में दो काले हिरणों का शिकार हुआ। इस मामले में सलमान, सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे व एक अन्य स्थानीय व्यक्ति दुष्यंत सिंह को आरोपी बनाया गया था। आरोप था कि फिल्म स्टार्स ने हथियारों से हिरणों का शिकार किया। इस मामले में अभियोजन पक्ष की तरफ से 28 गवाहों को पेश किया गया। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट देव कुमार खत्री ने वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 9/51 में दोषी पाए जाने पर सलमान खान को 5 साल के साधारण करावास की सजा सुनाई। इसके साथ ही उन पर 10 हजार रूपए का जुर्माना भी लगाया गया। जुर्माना न देने की स्थिति में तीन महीने का साधारण करावास होगा।

अवैध हथियारों से हुआ हिरण का शिकार
सलमान ने शूटिंग के दौरान शिकार किया था। इतना ही नहीं जिन हथियारों से शिकार किया गया उनके लाइंसेंस भी खत्म हो चुके थे। मामला सामने के बाद वन विभाग ने जोधपुर में चार केस दर्ज कराए थे। इनमें से एक केस आर्म्स एक्ट जबकि तीन हिरण शिकार मामले में थे। यह भी उल्लेखनीय है कि तीन केस में सलमान को बरी किया जा चुका है।
फैसले से निराश सलमान, बहनें रो पड़ीं
सलमान खान व अन्य आरोपी बीते रोज ही जोधपुर पहुंच गए थे। सलमान के साथ उनकी बहन अर्पिता और अलविरा भी पहुंची। मामला बहुचर्चित था लिहाजा अदालत में कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए थे। कोर्ट परिसर में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई थी। सलमान, सैफ अली खान, नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्र को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने सबूतों के अभाव में अन्य आरोपियों को तो बरी कर दिया जबकि अपने फैसले में सलमान को दोषी करार दिया। अदालत की तरफ से फैसला दिए जाने के बाद सलमान के चेहरे पर निराशा आ गई। उनकी बहनें भी रो पड़ीं। सलमान को अदालत ने 5 साल की सजा के साथ ही 10 हजार जुर्माना भी लगाया। सजा होते ही सलमान खान को पुलिस ने कस्टडी में ले लिया। अदालत के फैसले पर बिश्नोई समाज के लोगों ने खुशी जाहिर की है और कहा कि कानून सबके लिए बराबर है। दूसरी तरफ फैसले क बाद सलमान के फैंश को बड़ा झटका लगा है।

जेल में आशाराम बापू के अलग रहेंगे सलमान
सलमान खान को जोधपुर की चर्चित सेंट्रल जेल ले जाया गया। बता दें कि इसी जेल में नाबालिग लड़की से यौन शोषण के मामले में आशाराम बापू भी बीते सालों से बंद हैं। जेल अधिकारियों ने कहा कि सलमान को अलग बैरक में रखा गया है। सलमान को कैदी नंबर-106 की पहचान दी गई। जेल जाते वक्त सलमान शांत ही रहे। अदालत के सजा सुनाए जाने के बाद पहले से ही तैनात पुलिस ने सलमान को कस्टडी में ले लिया। सलमान को ऐसी उम्मीद नहीं थी कि उन्हें सजा हो सकती है। पुलिस के हिरासत में लेने से वह असहज हो गए और चुपचाप रहे। जोधपुर जेल के डीआईजी विक्रम सिंह ने मीडिया को बताया कि जेल की सुरक्षा कड़ी है और सलमान को आम कैदियों की तरह ही खाना दिया जाएगा। इस अंदाज में सलमान ने रखा जेल में कदम। देखें वीडियो-

रिलेटेड टॉपिक्स